Giriraj Seva by Nagpur Youngsters

Giriraj Seva by Nagpur Youngsters

Giriraj Seva by Nagpur Youngsters

गिरिराजGiriraj Seva by Nagpur Youngsters

सेवा ग्रूप नागपुर के जैन युवान अभी गुजरात पालीताणा के सिद्धगिरि तीर्थ में सेवा देकर आएं । श्री सिद्धगिरितीर्थ के पर्वत पर २७००० प्रभुमूर्तिआ हैं जो प्राचीन एवं रमणीय हैं । इन मूर्तिओं की सामूहिक पूजा का लाभ लेने सभी युवान गयें थें । एक एक युवानने सेंकडों मूर्तिओं की पूजा की । यूवाओंने एकसौ से अधिक मंदिरों की साफ-सफाई , निर्माल्यविसर्जन आदि सेवाकार्य भी अपने हाथों से किया । तीर्थ में रोज हजारों यात्रिक आते हैं लेकिन नवटूंक की परिक्रमा में सब नहीं जाते हैं । अधिकांश यात्रालु केवल बडे मंदिर में आदिनाथ दादा की यात्रा करते हैं । युवानों ने बहुसंख्य यात्रालुओं को नवटूंक की परिक्रमा में जोडा ।
तीर्थ का संचालन श्री आणंदजी कल्याणजी पेढी ट्रस्ट के द्वारा होता है . सामूहिक पूजा एवं नवटूंक परिक्रमा के लिये पेढी के निर्देशन में ३००० युवान सक्रिय हैं जो *गिरिराज सेवा ग्रूप* के नाम से गतिविधि करते हैं . भारत के अलग अलग शहरों से अलग अलग युवानों की टीम आती है , तीन दिन तीर्थ में रूकती है और पेढी के निर्देशन में उक्त प्रवृत्ति में जुड़ती है . नागपुर के युवान इसी सिलसिले में पालिताणा गए थें . गिरिराज सेवा ग्रुप नागपुर के प्रमुख मार्गदर्शक पू.गुरुदेव श्री प्रशमरतिविजयजी म. ने बताया कि ‘ *युवान अपने शहर में रहकर कुछ शुभकार्य करे तो उसकी जानकारी अपने संघ तक सीमित रहती है . लेकिन युवान बड़े तीर्थ में जाकर बड़ी सेवा करता है तब वह भारतभर के संघों में अपने संघ का नाम रोशन कर देता है . हमारे नागपुर के युवा , गिरिराज सेवा के जरिये बड़ा पुण्य कमाकर आये ये तो है ही . इन्होंने नागपुर जैन संघ का नाम हजारो यात्रालुओं में रोशन किया यह अनुमोदनीय बात है .*’
गिरिराज सेवा ग्रुप – नागपुर में नागपुर के छह संघ के युवा जुड़े है . श्री मुनिसुव्रत जैन मन्दिर , इतवारी . श्री अजितनाथ जैन मन्दिर , इतवारी . , श्री वर्धमाननगर , श्री रामदास पेठ , पारडी एवं कामठी . वर्धा संघ के युवा भी जुडे . पालिताणा में श्री आणंदजी कल्याणजी पेढी की और से श्री मितेशभाई शाहने युवानों का सन्मान किया . यात्रा कराने का लाभ पेढी के प्रादेशिक प्रतिनिधि श्री कीर्तिभाई वोराने लिया . श्री कीर्तिभाईने बताया कि *गुरुदेव श्री प्रशमरतिविजयजीम.का ही प्रभाव है कि गिरिराजसेवायात्रा को सफलता मिली* | यात्रा के लिए सब निकले तब स्व.दीपकभाई कोचर की याद में उनके पुत्र गौतम कोचर का सन्मान किया गया क्योकि गिरिराजसेवा की भूमिका दीपकभाइने बनाई थी । यात्रा से सब लौटे तब भाजपा के प्रादेशिक नेता सुभाषजी कोटेचा , राकेशजी गांधी , भाविकाजी शाह आदिने स्टेशन पर सभी का स्वागत किया .
नागपुर के युवान अधिक से अधिक संख्या में गिरिराजसेवा में जुडे इसके लिये आगामी समय में *श्री गिरिराजकथा , श्रीनवाणुंप्रकारी पूजा , श्री१००८नाममंत्रपूजन , श्रीगिरिनारतीर्थ पूजा* आदि आयोजन होगे जिसमें नागपुर के सभी संघों के युवकमंडल एवं महिलामंडलों को जोडा जाएगा .

Related Articles