Vidaay samaroh

Vidaay samaroh

Vidaay samaroh

अहो जिनशासनम्…..
——————————–
सरसवणी की सुहानी,सुरम्य धरा पर

मु.खुश्बुबेन, मु.लब्धिबेन,एंव
मु.समृध्दिबेन का
विदाई समारोह……
”जा सयंम पंथे दीक्षार्थी”
संगीतस्वर : अनिल गेमावत(मुंबई)

Related Articles

× CLICK HERE TO REGISTERer